प्रदेश के मौसम ने ली करवट भोपाल सहित कई संभाग में हल्की बारिश की संभावना

भोपाल
 पश्चिमी विक्षोभ के असर से मध्य प्रदेश के मौसम में बार बार बदलाव देखे जा रहे है और 10 मार्च तक इंदौर, भोपाल, ग्वालियर, चंबल, उज्जैन व भोपाल संभाग में हल्की बारिश की संभावना है। 

मौसम विभाग (MP Weather Report) के मुताबिक, आज 8 मार्च 2022 विंध्य और मालवा-निमाड़ समेत 22 जिलों में बारिश के आसार है। पिछले 24 घंटे में इंदौर, उज्जैन, भोपाल और नर्मगापुरम संभाग के जिलों में कहीं कहीं बारिश हुई और बाकी जिलों में मौसम शुष्क बना रहा।मालवा-निमाड़ क्षेत्र में कई जगह आंधी चली तो कई जगह बारिश और ओले भी गिरे। सबसे न्यूनतम तापमान 11 डिग्री सेल्सियस रीवा और खजुराहों में दर्ज किया गया। वही सबसे अधिकतम तापमान खरगोन में 37 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।मंगलवार को अधिकतम तापमान में सोमवार के मुकाबले तीन-चार डिग्री सेल्सियस तक की गिरावट हो सकती है।

मौसम विभाग (MP Weather Update Today) की माने तो वर्तमान में एक साथ 3 सिस्टम एक्टिव है। पाकिस्तान के आसपास बना पश्चिमी विक्षोभ हरियाणा पर सक्रिय हो गया है और इसके प्रभाव से दक्षिणी राजस्थान पर एक प्रेरित चक्रवात बना हुआ है । वही चक्रवात से पश्चिमी मप्र से होकर गुजरात, कोंकण तक एक ट्रफ बनने से बारिश हो रही है। एक नए पश्चिमी विक्षोभ के आज रात को उत्तर भारत की तरफ बढ़ने की संभावना है, ऐसे में अभी 3-4 दिन तक मौसम के ऐसा ही बने रहने के आसार है।वही ग्वालियर में 9 मार्च को बादल भी छाएंगे, लेकिन बारिश की संभावना कम है।

मौसम विभाग (MP Weather Forecast) के मुताबिक, वर्तमान में पश्चिमी विक्षोभ (WD) पाकिस्तान के आसपास मध्योपरी क्षोभमंडल की पछुवा पवनों के बीच एक ट्रफ के रूप में 25 डिग्री उत्तर अक्षांश के उत्तर में अवस्थित है, जिसके प्रभाव में प्रेरित चक्रवातीय परिसंचरण (Induced Cyclonic Circulation) पश्चिमी राजस्थान के ऊपर सक्रिय है। वहीं दक्षिणी बांग्लादेश के ऊपर अन्य चक्रवातीय परिसंचरण सक्रिय है।साथ ही मन्नार की खाड़ी से उत्तरी तमिलनाडु तट तक ट्रफ लाइन गुजर रही है। वहीं कल से अगले पश्चिमी विक्षोभ के प्रभावी होने की संभावना बनी हुई है।

Related Articles

Back to top button