आज CM ने श्योपुर जिले की समीक्षा बैठक ली, DSO को किया सस्पेंड

भोपाल
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बुधवार सुबह 7 बजे श्योपुर जिले की समीक्षा बैठक ली। इस दौरान कड़े तेवर दिखाते हुए उन्होंने श्योपुर जिले के खाद्य अधिकारी (DSO) को सस्पेंड कर दिया। राशन वितरण से जुड़ी गलत जानकारी देने पर CM ने उनके खिलाफ ये एक्शन लिया। वर्चुअल मीटिंग में मुख्यमंत्री ने अधिकारियों से राज्य और केंद्र सरकार की योजनाओं पर टू-द-पॉइंट बात की।

जिले की समीक्षा करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा, जो काम के बदले दाम मांगे, उन्हें नौकरी से बाहर करो। CM ने कहा कि राशन वितरण में गड़बड़ी करने वालों को हम छोड़ेंगे नहीं।

बिजली सप्लाई पर बोले, बेहतर प्लानिंग करनी पड़ेगी
मुख्यमंत्री ने कहा- CM हेल्पलाइन में शिकायत आई हैं। बिजली सब्सिडी पर 23-24 हजार करोड़ सरकार भर रही है। बिजली विभाग का किसान और उपभोक्ता के बीच सद्भाव का संबंध हो। हमको बिजली सप्लाई की बेहतर प्लानिंग करनी पड़ेगी। इस महीने बेहतर प्लानिंग करो। बिजली से संतुष्टि का स्तर बढ़ना चाहिए। पीएम किसान सम्मान और मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के हितग्राहियों में डिफरेंस क्यों है।

ये अंतर कम भी है, तो क्यों हैं इसकी मुझे रिपोर्ट भेजें। रोजगार दिवस पर 5000 लोगों को इस माह रोजगार की गतिविधियों से जोड़ा जाएगा। मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना को गंभीरता से लें। जिन्हें आवश्यकता है, उन्हीं को लाभ मिले, इस पर ध्यान दें। इस पूरी कवायद का मतलब जनता को सुशासन देना है। गरीब कल्याण की योजनाएं ठीक चले। हितग्राहियों को समय पर लाभ मिले।

5 दिन में तीन खाद्य अधिकारियों पर एक्शन लिया
पांच दिन के अंदर ये तीसरा मौका है जब CM ने किसी जिला खाद्य अधिकारी पर एक्शन लिया है। इससे पहले 23 सितंबर को डिंडौरी के DSO टीकाराम अहिरवार को सस्पेंड किया था। समय रहते पात्र लोगों के प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के कार्ड नहीं बनने पर शिवराज DSO टीकाराम से नाराज हुए थे। 25 सितंबर को CM ने झाबुआ के जिला खाद्य अधिकारी एमके त्यागी को जिले से हटाने और उनके खिलाफ लापरवाही बरतने की जांच के निर्देश दिए थे।

श्योपुर की समीक्षा बैठक में CM ने अफसरों से इन योजनाओं के भी हाल जाने…

CM जनसेवा अभियान

  • CM: सबसे पहले बताएं कि लोगों का कैसा रिस्पॉन्स आ रहा है?
  • कलेक्टर: 10,500 शिविर लगाए गए अब तक। रिस्पॉन्स बहुत अच्छा है। आयुष्मान भारत के लिए लोग ज्यादा आवेदन कर रहे हैं। ग्रामीण जनता में जन सेवा अभियान के प्रति जनजागरूकता बढ़ी है।

जलजीवन मिशन

  • कलेक्टर: 69,502 कनेक्शन दिए।
  • CM: कितनी योजनाओं पर काम चल रहा?
  • कलेक्टर: कुल 210 योजनाओं के तहत कार्य किया जा रहा है।
  • कलेक्टर: 77 योजनाएं पूरी हो चुकी हैं। 78 पर काम जारी है।
  • CM: अगर घटिया काम हुआ तो कलेक्टर जिम्मेदार होंगे।

आवास योजना शहरी

  • CM: अभी मुझे ये बताओ कि काम की गति धीमी क्यों है? अभी आपके हर महीने के टारगेट क्या हैं? ग्रामीण आवास की क्या स्थिति है?
  • कलेक्टर: कुल 30 हजार आवास बनाना है।
  • CM: कैसे हम सस्ती रेत उपलब्ध करा पाएं। इसके प्रयास किए जाएं।
  • कलेक्टर: सीमेंट और रेत की एकमुश्त सप्लाई की हमारी बात हो गई है। सप्लाई भी शुरू हो गई है।
  • CM: पैसे के लेनदेन की शिकायत तो नहीं है?
  • कलेक्टर: 1 पर FIR , 4 को सस्पेंड किया है।
  • CM: जिनकी शिकायत आई है, उनकी सेवा समाप्त की कार्रवाई की जाए। मैं फिर कह रहा हूं कि हम सभी योजनाओं का लाभ बिना कठिनाई के हितग्राहियों तक पहुंचाएं।

अमृत सरोवर

  • कलेक्टर: 104 में से 52 पूरे, 17 इस सप्ताह में पूरे हो जाएंगे।
  • CM: फोटोग्राफ्स भेजिए, मैं देखना चाहता हूं।

ODOP (एक जिला एक उत्पाद)

  • कलेक्टर: अमरूद को लिया गया है। जूस का बोटलिंग प्लांट लगाया गया। महिला समूहों को कार्य दिया गया है।
  • CM: ये केवल कागजी न रहें। ये उत्पाद आजीविका का साधन बनें।

आजीविका मिशन

  • कलेक्टर: 57 हजार दीदियां जुड़ी हैं। 30 हजार एग्रीकल्चर, 12 हजार पशुपालन, 6800 लघु वन उपज से जुड़ीं हैं।
  • CM: बहनों के सशक्तिकरण में कोई कमी न रहे। प्रधानमंत्री जी के कार्यक्रम की योजना के क्रियान्वयन में आपने बेहतर कार्य किया है। अनुशासित कार्यक्रम था। आपको बधाई देता हूं।

पोषण आहार

  • CM: अंडरवेट बच्चों का वजन ठीक हो, इसके लिये क्या प्रयास हो रहे हैं?
  • कलेक्टर: 1346 लोगों ने आंगनवाड़ियों को अडॉप्ट किया है।
  • CM: आंगनवाड़ी अगर ठीक हो गई तो कुपोषण के कलंक से मुक्ति दिला सकते हैं।

Related Articles

Back to top button