जिलों में बनेंगे खिलौना और बुक बैंक, आंगनबाड़ी में रखे जाएंगे खिलौने

भोपाल
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान हाथठेला लेकर घर-घर से खिलौने और किताबें लेने निकलने वाले है। उन्होंने अपने मंत्रियों और जनप्रतिनिधियों से भी खिलौने एकत्रित करने को कहा है। महिला बाल विकास विभाग इन सभी के द्वारा एकत्रित किए गए खिलौनों से हर जिले में खिलौना बैंक बनाएंगा। मिलने वाली पुस्तकों के लिए बुक बैंक बनाए जाएंगे। इन खिलौनों से बच्चे खेल सकेंगे और आंगनबाड़ी केन्द्रों में पहुंचने वाले बच्चो की माताएं मनचाही पुस्तकें पढ़ सकेंगी।

महिला बाल विकास विभाग ने दिए निर्देश
महिला बाल विकास विभाग ने सभी जिलों के कलेक्टरों और जिला महिला बाल विकास अधिकारियों से कहा है कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और अन्य मंत्री तथा जनप्रतिनिधि जो घर-घर से खिलौने और पुस्तकें एकत्रित करने निकलने वाले है उन्हें हर जिले में आंगनबाड़ियों में रखा जाएगा। यहां उनके लिए खिलौना बैंक बनाए जाएंगे। पुस्तक बैंक बनाई जाएंगी। रोजाना जो बच्चे आंगनबाड़ियों में पहुंचते है वे इन खिलौनों से खेल सकेंगे। खिलौने घर ले जाने की अनुमति नहीं होगी। बच्चे वहीं इन खिलौनो से खेलेंगे। अलग-अलग तरह के खिलौने खिलौना बैंक में आंगनबाड़ियों में रहेंगे तो बच्चे भी रोजाना आंगनबाड़ियों में अधिक संख्या में पहुचेंगे।

माताएं पढ़ेंगी पुस्तकें
आंगनबाड़ियों में जो पुस्तकें रखी जाएंगी वे पुस्तक बैंक में रहेंगी। यहां टीकाकरण और अन्य कामों से आने वाली बच्चों की माताएं इस बुक बैंक में बैठकर पुस्तकें पढ़ सकेंगी। इससे ग्रामीण अंचलों की माताओ के ज्ञान में वृद्धि होगी। धार्मिक, सामाजिक, कहानी, स्वास्थ्य, भोजन रेसिपी और ज्ञान बढ़ाने वाली इन पुस्तकों का लाभ ग्रामीण क्षेत्र की महिलाओं को मिलेगा इससे उनका न केवल मनोरंजन होगा बल्कि उन्हें जीवन में आगे बढ़ने के लिए जानकारियां भी मिलेंगी। इससे मां और बच्चे दोनो ही ज्ञान से समृद्ध हो सकेंगे।

Related Articles

Back to top button