बेमौसम बारिश से खेतों में खड़ी फसल को नुकसान ,सर्वे शुरू

इंदौर 
 अंचल में बेमौसम बारिश ने किसानों को फिर परेशानी में डाल दिया है। सोमवार के बाद मंगलवार को हुई बारिश से खेतों में खड़ी फसल आड़ी हो गई। खंडवा मंडी में रखा करीब दस हजार क्विंटल गेहूं में से कुछ को नुकसान पहुंचा है। किसानों का कहना है कि सबसे ज्यादा नुकसान गेहूं की फसल को पहुंचा है। उधर, अफसर नुकसानी का सर्वे करने की बात कर रहे हें।

खंडवा : नहीं होगी नीलामी

खंडवा में कृषि उपज मंडी में रखा गेहूं भीग गया। गेहूं को व्यापारियों के कर्मचारी बारिश से बचाने की मशक्कत करते रहे। किसान भी वाहनों पर तिरपाल ढंककर बचाने में लगे रहे। व्यापारियों ने बुधवार को गेहूं की नीलामी बंद रखने का निर्णय लिया है।

बुरहानपुर में गेहूं की फसल आड़ी हो गई है। जिलेभर में इन दिनों गेहूं और चना फसल की कटाई का दौर जारी है। बारिश से उपज की चमक फीकी हो जाएगी। जिला प्रशासन ने सर्वे के लिए मंगलवार सुबह पटवारियों का दल रवाना कर दिया गया है। दो दिन में सर्वे होगा।

धार : 300 हेक्टेयर में फसलें प्रभावित

धार जिले में करीब आठ गांवों में आंधी, बारिश और ओलावृष्टि से फसलें प्रभावित हुई हैं। मंगलवार सुबह एसडीएम वीरेंद्र कटारे व तहसीलदार अजमेरसिंह गौड़ ने फसलों का गांवों में पहुंचकर मुआयना किया व किसानों से चर्चा की। कृषि व राजस्व अमला सर्वे कर रहा है। इधर, भारतीय किसान संघ के जिलाध्यक्ष हरीश पटेल एवं मार्केटिंग सोसायटी के पूर्व अध्यक्ष नारायणसिंह देवड़ा ने बताया कि बदनावर क्षेत्र में करीब 300 हेक्टेयर में फसलें प्रभावित हुई है।

Related Articles

Back to top button