Wather Update News : बिपरजॉय का असर ग्वालियर-चंबल में भारी बारिश का अलर्ट, भोपाल में भी पानी गिरेगा

Wather Update News : मध्यप्रदेश के ग्वालियर-चंबल में मंगलवार को भी भारी बारिश का अलर्ट है। मौसम विभाग ने ग्वालियर-शिवपुरी समेत 8 जिलों में 24 घंटे के भीतर 4 इंच से ज्यादा बारिश होने का अनुमान जताया है।

Latest Wather Update News : उज्जवल प्रदेश, भोपाल . बिपरजॉय तूफान के चलते मध्यप्रदेश के ग्वालियर-चंबल में मंगलवार को भी भारी बारिश का अलर्ट है। मौसम विभाग ने ग्वालियर-शिवपुरी समेत 8 जिलों में 24 घंटे के भीतर 4 इंच से ज्यादा बारिश होने का अनुमान जताया है। राजस्थान से सटे रतलाम, नीमच, मंदसौर, राजगढ़ में भी मौसम बिगड़ा रहेगा। भोपाल शहर में दिन में तेज बारिश हो सकती है, जबकि इंदौर, जबलपुर-उज्जैन में आंधी चल सकती है।

21 जून को भी यहां ऐसा ही मौसम रहेगा। इधर रात भर हुई बारिश से मुरैना जिले के सिहौंनिया थाना क्षेत्र के तहत पार्थ के पुरा गांव में दो मंजिला भवन ढह गया। जिससे करीब आधा दर्जन लोग घायल हो गए। बिपर्जय तूफान की वजह से जिले में रविवार दोपहर से लगातार बारिश हो रही थी। अधिक बारिश की वजह से पोरसा थाने में बने कर्मचारियों के आवासों में पानी भर गया और कर्मचारियाें के घरों का सामान पानी में डूब गया और खराब हो गया।

बिपर्जय तूफान की वजह से जिले में लगातार बारिश हो रही थी। अधिक बारिश की वजह से पोरसा थाने में बने कर्मचारियों के आवासों में पानी भर गया और कर्मचारियाें के घरों का सामान पानी में डूब गया और खराब हो गया

भोपाल में अगले 4 दिन बारिश

राजधानी में मौसम बदला हुआ रहेगा। 20 और 21 जून को तेज बारिश होने के आसार हैं, जबकि 22 जून को हल्की बारिश हो सकती है। 23 जून को गरज-चमक के साथ बारिश होने का अनुमान है।

आज इन जिलों में बदला रहेगा मौसम

भोपाल, विदिशा, रायसेन, सीहोर, राजगढ़, रतलाम, उज्जैन, देवास, शाजापुर, मंदसौर, नीमच, नर्मदापुरम, धार, बैतूल में बारिश हो सकती है। वहीं, हरदा, बुरहानपुर, खंडवा, खरगोन, बड़वानी, अलीराजपुर, झाबुआ, इंदौर में बादल छाए रहेंगे। यहां हवा की रफ्तार ज्यादा रहेगा। कुछ जिलों में यह 50 किमी या इससे ज्यादा हो सकती है।

मौसम भी हुआ ठंडा

अरब सागर में सक्रिय होकर गुजरात और राजस्थान में तबाही मचाने वाला चक्रवाती तूफान बिपर्जय ग्वालियर-चंबल संभाग से गुजर रहा है। इसके प्रभाव से शहर में दिनभर फुहारों और हल्की वर्षा का दौर चला। इसके चलते तापमान में भारी गिरावट दर्ज की गई और मौसम में ठंडक घुल गई। मौसम विभाग ने सोमवार की देर रात से लेकर मंगलवार को भारी वर्षा का आरेंज अलर्ट जारी किया है। इसके साथ ही 40 से 50 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवाएं चलने की संभावना भी जताई गई है।

अगले 48 घंटे तक मौसम में ठंडक घुली रहेगी। सोमवार की सुबह मौसम सुहाना था। आसमान में घने बादल छाए रहे और सुबह के समय हल्की वर्षा हुई। बादलों के चलते दिन में धूप नहीं निकली। रुक-रुककर हल्की वर्षा भी होती रही। इसके बाद देर रात तक टुकड़ों में हल्की वर्षा का सिलसिला चलता रहा। इसका नतीजा यह हुआ कि पारे ने गहरी डुबकी लगाई।

24-25 से शुरू होंगी प्रीमानसून की गतिविधियां

मौसम विभाग के अनुसार चक्रवाती तूफान बिपर्जय कम दबाव के क्षेत्र में परिवर्तित हो गया है और अब यह ग्वालियर-चंबल संभाग के ऊपर से गुजर रहा है। इसे यहां से गुजरने में 48 घंटे का समय लगेगा। इसके चलते शहर में 48 घंटों यानी 21 जून तक इसका प्रभाव रहेगा। अगले 24 घंटे के दौरान गरज-चमक के साथ तेज वर्षा की संभावना है। इसके अलावा 40 से 50 किमी प्रतिघंटा की गति से तेज हवाएं भी चल सकती हैं।

बिपर्जय के प्रभाव से 21 जून तक गर्मी से राहत रहेगी। इसके बाद दो दिन आसमान साफ रहेगा और धूप खिली रहेगी। इसी बीच 26 जून से मानसून आने की संभावना जताई गई है। ऐसे में 24 और 25 जून को प्री-मानसून गतिविधियां सक्रिय हो जाएंगी। इसके असर से आंधी-वर्षा की संभावना बनी हुई है। इसके चलते लोगों को गर्मी से राहत मिलेगी।

Related Articles

Back to top button