मेडिफेस्ट 2022- प्रदर्शनी के आखिरी दिन सर्वाधिक रहा फुटफाल, आमजन ने प्रदर्शनी को सराहा, सरकार के प्रति जताया आभार

जयपुर। सवाई मानसिंह मेडिकल कॉलेज के मैदान में चल रही मेडिफेस्ट-2022 प्रदर्शनी के दूसरे और आखिरी दिन बड़ी संख्या में आमजन का फुटफाल रहा। आमजन के साथ नर्सिंग और मेडिकल शिक्षा से जुड़े छात्र छात्राओं ने बड़ी तादात में शिरकत की और राज्य सरकार द्वारा चिकित्सा क्षेत्र में किए जा रहे नवाचारों को जाना और सराहा।

प्रमुख शासन सचिव वित्त श्री अखिल अरोड़ा, मेडिकल चिकित्सा शिक्षा के प्रमुख शासन सचिव श्री वैभव गालरिया, विशिष्ट शासन सचिव श्री नरेश ठकराल, चिकित्सा शिक्षा आयुक्त श्रीमती शिवांगी स्वर्णकार, आईईसी निदेशक श्री सुनील शर्मा सहित अन्य अधिकारियों ने बुधवार को प्रदर्शनी का अवलोकन किया।

60 स्टालों पर प्रदर्शित हुई विभाग की उपलब्धियां

एसएमएस मेडिकल कॉलेज के मैदान में लगी प्रदर्शनी में चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग, मेडिकल शिक्षा और सवाई मानसिंह मेडिकल कॉलेज द्वारा लगाई 60 से ज्यादा स्टालें लगाई गईं। इनमें विगत 3 वर्षों में विभाग द्वारा किए गए उल्लेखनीय कार्यों को प्रदर्शित किया गया है। प्रदर्शनी में मुख्यमंत्री निशुल्क दवा योजना, मुख्यमंत्री जांच योजना, चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना, मातृ एवं शिशु स्वास्थ्य योजना, चिरंजीवी जननी सुरक्षा योजना, चिरंजीवी 108/ 104 एंबुलेंस सेवाएं, चिरंजीवी बाइक एंबुलेंस सेवा, ई संजीवनी टेलीमेडिसिन सेवा, वैलनेस सेंटर, सहित कई योजनाओं से जुड़े लाइव मॉडल व पोस्टर प्रदर्शित किए। इसके अलावा प्रदेश के 30 जिलों में चिकित्सा शिक्षा विभाग द्वारा किए गए कार्यों को भी दर्शाया गया। प्रदर्शनी में चिकित्सा में आ रहे नई तकनीकों और नवाचारों से भी आमजन को जागरूक किया गया।

सेल्फी प्वाइंट बना आईपीडी टावर मॉडल

प्रदर्शनी में आने वाले आगंतुकों के बीच आईपीडी का मॉडल खासा चर्चा में रहा। आने वाले ज्यादातर लोगों ने मॉडल के साथ अपनी फोटो खिंचवाई व इसके बारे में अधिक से अधिक जानकारी हासिल की। छात्र-छात्राओं में खासतौर पर एयर एंबुलेंस और हेलीकॉप्टर लैंडिंग के बारे में विशेष उत्सुकता देखी गई। गौरतलब है कि 24 मंजिला इस आईपीडी टावर पर आसानी से हेलीकॉप्टर लैंडिंग की जा सकती है, जिससे ऑर्गन ट्रांसप्लांट और इमरजेंसी में सुविधा मिल सकेगी।

आमजन ने चिकित्सा योजनाओं को सराहा, मुखमंत्री और चिकित्सा मंत्री का जताया आभार

प्रदर्शनी के दूसरे दिन भारी संख्या में आमजन ने शिरकत की और चिकित्सा क्षेत्र में राज्य सरकार द्वारा किए जा रहे प्रयासों को सराहा। जयपुर की चौड़ा रास्ता निवासी हिमांशी सिंह ने कहा कि चिकित्सा के क्षेत्र में राज्य सरकार ने इतने बेहतरीन नवाचार किए हैं, जिसकी तुलना देश के किसी भी राज्य से तुलना नहीं की जा सकती। राजस्थान हर क्षेत्र में अव्वल है। मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत द्वारा राजस्थान में 1 अपे्रल से किसी भी कोई ओपीडी व आईपीडी में कैशलेस सुविधा प्रदेशवासियों के लिए वरदान से कम नहीं है।

बीएससी नर्सिंग में सेकंड ईयर के छात्र सौम्य का कहना है कि चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना के जरिए उनके दादाजी के हार्ट का ऑपरेशन करवा पाना संभव हो सका। उन्होंने बताया कि हमारे घर की आर्थिक स्थिति मजबूत नहीं थी। चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना के जरिए जयपुर के एक निजी अस्पताल में दादाजी का हार्ट का ऑपरेशन हुआ और अब वे 86 वर्ष की उम्र में स्वस्थ महसूस कर रहे हैं। सौम्य ने निशुल्क उपचार के लिए मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत व चिकित्सा मंत्री श्री परसादी लाल मीणा का आभार जताया।

Related Articles

Back to top button