अंचल कार्यालयों में राजस्वकर्मियों की मनमानी की खुली पोल, लापरवाही मिलने पर डीएम ने एक को किया निलंबित मामले

पटना

अंचल कार्यालयों में राजस्व कर्मचारियों की मनमानी है। इसी कारण दाखिल खारिज, परिमार्जन के आवेदन काफी दिनों तक लंबित रहते हैं। बुधवार को 23 अंचलों के निरीक्षण में इसका खुलासा हुआ। अधिकारियों की टीम ने पाया कि राजस्व कर्मचारियों की लापरवाही और मनमानी से समस्या गंभीर होती जा रही है। डीएम डॉ. चंद्रशेखर सिंह ने खुद भी पटना सदर अंचल का निरीक्षण किया। घोर लापरवाही मिलने पर एक राजस्व कर्मचारी को निलंबित करने के आदेश दिए।

क्यों निलंबित हुआ राजस्व कर्मी
डीएम ने दाखिल-खारिज के सबसे पुराने लंबित 5 मामलों का गहन अवलोकन किया। उन्होंने पाया कि कर्मचारी राजेश कुमार सिन्हा के पास ये पांच आवेदन एक साल से अधिक समय से लंबित हैं। नियमत: उन्हें अधिकतम 20 दिन में प्रथम प्रतिवेदन समर्पित कर देना था, परन्तु उन्होंने सभी मामलों में प्रथम प्रतिवेदन लगभग छह महीने बाद (प्रथम चार मामलों में 27 सितंबर 2021 को एवं अंतिम मामले में 29 सितंबर 2021 को) दिया।

Related Articles

Back to top button