कोर्ट में आजम खान को देख बोले पीड़ित- हां, इन्होंने ही मारा-पीटा और चोरी कर ले गए भैंस

रामपुर
रामपुर के शहर कोतवाली क्षेत्र में यतीमखाना बस्ती को खाली कराने के नाम पर घर में घुसकर मारपीट, लूटपाट और डकैती के साथ ही भैंस चोरी के मामले में दो पीड़ितों ने कोर्ट पहुंचकर सभी आरोपियों की शिनाख्त की और उनके खिलाफ बयान दर्ज कराए। पहचाने गए आरोपियों में शहर विधायक आजम खान के साथ ही रिटायर सीओ आले हसन और सपा के मौजूदा जिलाध्यक्ष वीरेंद्र गोयल समेत अन्य आरोपी भी हैं। अब पीड़ितों से छह मई को जिरह होगी। सपा सरकार में शहर कोतवाली क्षेत्र की यतीमखाना बस्ती में स्कूल बनाने के नाम पर बस्ती को खाली कराया गया था। इस दौरान लूटपाट, डकैती और चोरी के साथ ही मारपीट तक के आरोप लगे थे।

इस मामले की रिपोर्ट भाजपा की सरकार आने के बाद दर्ज कराई गई थी। शहर कोतवाली में इस तरह के 12 मामले दर्ज हुए थे। पुलिस ने इन सभी मामलों में चार्जशीट दाखिल कर चुकी है। तीन मामलों में कोर्ट में आरोप भी तय हो चुके हैं। कोर्ट में आरोप तय होने के बाद अब गवाही शुरू हो गई है।

Related Articles

Back to top button