सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री ने जिले की 106 प्रतिभावान बेटियों को सौंपी स्कूटी की चाबी

जयपुर। सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री श्री टीकाराम जूली ने कहा कि राज्य सरकार बेटियों को आगे बढाने के लिए उनकी शिक्षा को बढ़ावा दे रही है। उन्हें शिक्षा के लिए हर प्रकार की सहूलियत प्रदान करन के लिए सरकार  संकल्पबद्ध है।

सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री, जिला बीसूका उपाध्यक्ष श्री योगेश मिश्रा एवं जिला कलक्टर श्री शिवप्रसाद नकाते ने बुधवार को अलवर के श्री आदिनाथ जैन बीएड कॉलेज में शिक्षा विभाग की ओर से 106 प्रतिभावान छात्राओं को स्कूटी भेंट की ।  इसमें इंदिरा प्रियदर्शनी योजना के अन्तर्गत सत्र 2019-20 की 53 तथा कालीबाई भील मेधावी छात्रा स्कूटी योजना के तहत आर्थिक रूप से पिछड़ा वर्ग की 53 प्रतिभावान छात्राएं शामिल हैं।

श्री जूली ने छात्राओं को बधाई  देते हुए उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा प्रदान की गई ये स्कूटियां बेटियों को उनके सपनों की उडान भरने में सहायक होगीं। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने बेटियों की उच्च शिक्षा निःशुल्क की है। मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने ऎतिहासिक निर्णय लिया है कि अगले साल डेढ गुणा ज्यादा प्रतिभावान छात्राओं को स्कूटी वितरित की जाएगी। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने गरीब वर्ग के बालकों को गुणवत्ता पूर्ण शिक्षा के लिए अंग्रेजी माध्यम की महात्मा गांधी स्कूल  प्रारम्भ की  हैं। उन्होंने अभिभावकों से आह्वान किया कि बेटियों को उनके सपने साकार करने का अवसर दें।

जिला कलक्टर श्री शिवप्रसाद नकाते ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा प्रदान की जा रही यह स्कूटी बेटियों की मेहनत का सम्मान है। उन्होंने बेटियों से कहा कि ये स्कूटियां उनकी पढाई में उपयोगी साबित हाेंगी। अपनी दिशा एवं लक्ष्य तय कर उसको साकार करने के लिए पूर्ण मनोयोग से कठिन परिश्रम करें। उन्होंने अभिभावकों से कहा कि बच्चियों को उनके लक्ष्य अर्जित करने में सहयोग करें। बीसूका के जिला उपाध्यक्ष श्री मिश्रा ने भी विचार व्यक्त किए।

मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी श्रीमती पूनम गोयल नेे शिक्षा विभाग की इंदिरा प्रियदर्शनी योजना एवं कालीबाई भील योजना के संबंध के जानकरी दी। उन्होंने बताया कि इंदिरा प्रियदर्शनी योजनान्तर्गत 8 वर्गों की बालिकाओं को स्कूटी दी जाती है।  कक्षा 12 के तीनों संकाय की आठ-आठ बालिकाओं को एक लाख रूपये की राशि एवं स्कूटी प्रदान की जाती है । इन बालिकाओं के खातों में एक लाख रूपये की राशि जमा हो चुकी है। उन्होंने बताया कि आज बेटियों को स्कूटी, हैलमेट, स्कूटी पंजीकरण के दस्तावेज, स्कूटी के बीमा के दस्तावेज तथा दो लीटर पेट्रोल स्कूटी में डलवाकर दिया गया है। कालीबाई भील योजना में केवल स्कूटी प्रदान की जाती है।

जिला शिक्षा अधिकारी माध्यमिक श्री राकेश शर्मा ने  आभार व्यक्त किया। मंच संचालन शिक्षाविद् श्री दिनेश शर्मा ने किया।

Related Articles

Back to top button