दूरबीन से EVM की निगरानी करने वाली सपा उम्मीदवार ने अब बताई अपनी हार की असली वजह

मेरठ
उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 के नतीजे सामने आ चुके है और भारतीय जनता पार्टी को जीत मिली है। जबकि समाजवादी पार्टी 125 सीट पाकर दूसरे नंबर पर रही। तो वहीं, दूरबीन से ईवीएम की गिगरानी करने वाले हस्तिनापुर विधानसभा सीट से सपा प्रत्याशी योगेश वर्मा एक लाख 275 वोट पाकर भी हार गए। चुनाव हारने के बाद योगेश वर्मा ने फेसबुक लाइव आकर अपना दर्द बयां किया और पार्टी के कार्यकर्ताओं को लेकर बड़ा बयान दिया।
 

फेसबुक लाइव करते हुए सपा प्रत्याशी योगेश वर्मा ने कहा, 'चुनाव नहीं, किस्मत हारी है। समर्थक मायूस हैं, परेशान हैं, फोन कर रहे हैं, रो रहे हैं। उनका परेशान होना भी लाजमी है, क्योंकि उन्होंने दिल से चुनाव लड़ाया। बहुत मेहनत की। एक लाख से ज्यादा वोट दिया है। कहा कि यह मेरा परिवार है, सभी का धन्यवाद। किसी को यह डर हो कि कोई अब परेशान करेगा, तो सभी के साथ हमेशा खड़ा रहूंगा, घबराने की जरूरत नहीं है।'

Related Articles

Back to top button