लड़की ने बताई अपनी आपबीती, बोली- नौकरी, बंधक और फिर शादी के नाम पर अलग-अलग शख्स ने किया रेप

लखनऊ
खलीलाबाद से नौकरी की आस में आई एक युवती से लखनऊ में तीन लोगों ने रेप किया। पहले एक युवक ने नौकरी दिलाने का झांसा देकर तीन महीने तक उसका यौन शोषण किया। फिर एक युवक ने उसे बंधक बनाकर रेप किया। इन दो लोगों से बचकर वह निकली तो एक शख्स ने उसे सुरक्षा देने के नाम पर अपने घर रखा और यौन शोषण किया। इससे उसकी तबीयत ज्यादा बिगड़ी तो केजीएमयू जाने लगी। उसके रक्तस्त्राव होने पर ऑटो ड्राइवर ने उसे परिवर्तन चौक पर उतार दिया था। पुलिस ने उसे महिला अस्पताल में भर्ती कराया। तबीयत ठीक होने पर शनिवार को उसने एफआईआर दर्ज कराई। इसके बाद ही पुलिस ने एक आरोपित को गिरफ्तार कर लिया। अन्य दो की तलाश की जा रही है।  

इंस्पेक्टर हजरतगंज श्याम बाबू शुक्ला के मुताबिक गिरफ्तार युवक रुस्तमनगर निवासी शबाब आलम उर्फ अंकित उर्फ तन्नू है। पीड़िता ने आरोप लगाया था कि वह नौकरी की तलाश में लखनऊ आयी थी। यहां चारबाग रेलवे स्टेशन पर उसकी मुलाकात शबाब आलम से हुई। उसने अपना परिचय अंकित के रूप में दिया था। शबाब ने ही उसे कमरा दिलाया। फिर उसे शादी का झांसा देकर यौन शोषण शुरू कर दिया। कुछ दिन बाद दोनों के बीच विवाद हो गया। इस पर दोनों अलग हो गये। युवती ने आरोप लगाया कि कुछ समय बाद उसकी मुलाकात मड़ियांव के एक युवक से हुई। इस युवक ने तीन दिनों तक बंधक बनाकर उसके साथ दुराचार किया। किसी तरह वहां से निकली तो उसे सुरक्षा देने के नाम पर एक व्यक्ति ने अपने घर शरण दी। पर, बाद में उसने भी उसका यौन शोषण किया। युवती ने पुलिस को बताया कि वह अपने साथ हुये इन कृत्यों की सूचना देने के लिये थाने जा रही थी लेकिन रास्ते में उसकी तबीयत खराब हो गई थी।

परिवर्तन चौक पर उतार दिया था ड्राइवर ने
पीड़िता ने पुलिस को बताया कि युवती की तबीयत खराब थी। वह एक ऑटो से 12 मार्च को केजीएमयू जा रही थी। परिवर्तन चौक के पास ज्यादा तबियत खराब होने पर उसके रक्तस्त्राव होने लगा। इस पर ड्राइवर डर गया और उसे परिवर्तन चौक पर उतार कर भाग निकला। महिला पुलिस ने उसे क्वीन मेरी अस्पताल में भर्ती कराया। तबियत ठीक होने पर पुलिस ने उसके बयान लिये। इसके बाद ही एफआईआर दर्ज की।

 

Related Articles

Back to top button