व्यापमं घोटाले के व्हिसलब्लोअर आनंद राय दिल्ली से गिरफ्तार

नई दिल्ली
मध्य प्रदेश पुलिस ने व्यापमं घोटाले (Vyapam Scam) के व्हिसलब्लोअर डॉ. आनंद राय को मुख्यमंत्री सचिवालय में पदस्थ एक अधिकारी द्वारा दी गई शिकायत के सिलसिले में शुक्रवार तड़के दिल्ली से गिरफ्तार कर लिया गया । एक अधिकारी ने इस बारे में जानकारी दी। मुख्यमंत्री सचिवालय के उप सचिव लक्ष्मण सिंह मरकाम ने 25 मार्च को आयोजित मध्य प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा (टीईटी)-2022 का एक प्रश्नपत्र कथित रूप से लीक होने के विवाद में उनका नाम घसीटने की कोशिश करने का आरोप लगाते हुए आनंद राय और मध्य प्रदेश कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता के. के. मिश्रा के खिलाफ पिछले महीने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी।

उक्त परीक्षा मध्य प्रदेश कर्मचारी चयन बोर्ड द्वारा आयोजित की गई थी, जिसे पहले व्यावसायिक परीक्षा मंडल (व्यापमं) के रूप में जाना जाता था। लीक हुए प्रश्न-सह-उत्तरपुस्तिका का एक कथित स्क्रीनशॉट सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था, जिसमें किसी लक्ष्मण सिंह का नाम लिखा हुआ देखा जा सकता था। भोपाल पुलिस की क्राइम ब्रांच के सहायक पुलिस आयुक्त शिवपाल सिंह कुशवाहा ने को बताया कि राय को गुरुवार आधी रात के तुरंत बाद दिल्ली से गिरफ्तार किया गया है। उन्होंने बताया कि राय को भोपाल लाया जा रहा है।

आनंद राय के करीबी सूत्रों ने बताया कि मध्य प्रदेश हाईकोर्ट ने राय द्वारा उनके खिलाफ दर्ज एफआईआर रद्द करने का अनुरोध करने वाली याचिका गुरुवार को खारिज कर दी। राय अदालत के इस फैसले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती देने के उद्देश्य से दिल्ली गए थे। अपनी शिकायत में मरकाम ने राय और मिश्रा पर उनकी (मरकाम) छवि खराब करने का आरोप लगाया है। मध्य प्रदेश के विभिन्न विभागों में भर्तियों और व्यावसायिक पाठ्यक्रमों में दाखिले के लिए होने वाली परीक्षाओं में धांधली को लेकर व्यापमं सुर्खियों में रहा है। व्यापमं में घोटाला 2011 में सामने आया था। सीबीआई ने 2015 में सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद इस भर्ती और प्रवेश घोटाले की जांच अपने हाथ में ले ली थी।    

 

Related Articles

Back to top button