देश में ‘एक और महाभारत’ की दी चेतावनी- कांग्रेस नेता तौकीर रजा ने धृतराष्ट्र से की पीएम मोदी की तुलना

लखनऊ
इस्लामिक स्कॉलर और आला हजरत दरगाह से जुड़े मौलाना तौकीर रजा खान ने पीएम नरेंद्र मोदी की तुलना धृतराष्ट्र से करने और देश में एक और महाभारत की चेतावनी देकर नए विवाद को जन्म दे दिया है। इतना ही नहीं, मौलाना ने कहा कि अगर मुसलमान घर से निकलकर सड़कों पर आ गए तो उन्हें कोई रोक नहीं पाएगा। वहीं, अब मौलान के बयान पर बीजेपी का पलटवार आया है। यूपी प्रदेश प्रवक्‍ता मनीष शुक्‍ला ने कहा, 'देश धमकी और जिहाद से नहीं, बल्कि कानून और संविधान से चलेगा।

 कौन है मौलाना तौकीर रजा खान
मौलाना तौकीर रजा की पहचान सुन्नी मुसलमानों के बरेलवी समुदाय के मौलाना के तौर पर होती है। तौकीर रजा खान आला हजरत दरगाह से भी जुड़े हुए है। इस्लामिक स्कॉल होने के साथ-साथ तौकीर रजा ने राजनीतिक पार्टी भी बनाई है जिसका नाम है इत्तेहाद-ए-मिल्लत काउंसिल (आईएमसी)। इतना ही नहीं, यूपी चुनाव से ठीक पहले तौकीर रजा खान कांग्रेस में शामिल हुए थे।
 

धृतराष्ट्र से की पीएम मोदी की तुलना
तौकीर रजा खान गुरुवार को दिए अपने एक बयाने के बाद मीडिया की सुर्खियों के साथ-साथ बीजेपी के निशाने पर भी आ गए है। दरअसल, तौसरी रजा ने जहांगीरपुरी में हुई बुलडोजर की कार्रवाई को लेकर कहा कि मुसलमानों पर हो रहे अत्याचार पर पीएम मोदी अंधे और बहरे बने रहते हैं तो भारत में दोबारा महाभारत होने से कोई नहीं रोक सकता। तौकीर रजा यहीं नहीं रुके, उन्होंने कहा- अगर मुसलमान घर से निकलकर सड़कों पर आ गए तो उन्हें कोई रोक नहीं पाएगा।

 'ईद के बाद चलेगा आंदोलन'
तौकीर रजा ने गुरुवार को दरगाह आला हजरत स्थित अपने आवास पर बुलाई प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि अगर एकतरफा कार्रवाई नहीं रोकी गई तो मुसलमानों के खिलाफ हो रहे अन्याय को लेकर ईद के बाद दिल्ली में रणनीति बनाकर देशव्यापी जेल भरो आंदोलन का ऐलान किया जाएगा। इसमें मुसलमान और भाईचारे के समर्थक सभी धर्मों के लोग भी शामिल होंगे।

 रजा के बयान पर बीजेपी प्रवक्ता ने किया पलटाव
तो वहीं, अब मौलाना तौकीर रजा खान के इस बयान पर यूपी प्रदेश प्रवक्‍ता मनीष शुक्‍ला का बयान सामने आया है। मनीष शुक्ला ने कहा, 'देश धमकी और जिहाद के नारों से नहीं चलेगा, बल्कि कानून और संविधान से चलेगा। जहांगीरपुरी में जिन लोगों के अतिक्रमण हटाए गए हैं अगर उन नामों की सूची देख लेते तो ऐसी विषैली बातें नहीं बोलते। लेकिन आपका भी मकसद न्‍याय नहीं है राजनीति करना है। धर्म और जाति के आधार पर राजनीति करना है। लेकिन प्रदेश और देश इससे आगे बढ़ चुका है।' उन्‍होंने आगे कहा कि, 'तौकीर रजा के इस बयान का भी कानूनी परीक्षण होगा, और यदि इसमें कोई गैरकानूनी चीज निकलेगी तो इस बयान के आधार पर भी कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी।'

 तौकीर रजा इससे पहले भी दे चुके है विवादित बयान
आपको बता दें कि यह पहली बार नहीं है जब तौकीर रजा खान ने कोई विवादित बयान दिया है। वो इससे पहले भी पीएम मोदी और हिंदू समाज को लेकर आपत्तिजनक बयान दे चुके है। आपत्तिजनक बयान बाजी करने के आरोप में उन्हें पहले भी गिरफ्तार किया जा चुका है। सीएए के खिलाफ हो रहे विरोध प्रदर्शन के दौरान कट्टरवादी इस्लामी धर्मगुरू तौकीर रजा खान ने पीएम नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह को आंतकवादी तक कह डाला था। जिसके बाद यूपी पुलिस ने तौकीर रजा के खिलाफ आईपीसी की धारा 304, 305 और 153-K के अंतर्गत मामला दर्ज किया था।

 

Related Articles

Back to top button