योगी सरकार ने पांच साल में 20 हजार करोड़ से अधिक की सरकारी खरीद कर बनाया रिकॉर्ड

 लखनऊ

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की भ्रष्टाचार को लेकर जीरो टॉलरेंस की नीति रंग ला रही है। प्रदेश में सरकारी विभागों ने जेम पोर्टल के माध्यम से पिछले पांच सालों में 20 हजार 642 करोड़ से अधिक की खरीद कर देश में पहले नंबर पर रहने रिकॉर्ड कायम किया है। पिछले वित्तीय वर्ष में रिकॉर्ड 11 हजार 228 करोड़ की खरीद की गई है, जो पिछले वर्ष की तुलना में 143 फीसदी ज्यादा है। इसमें 60 फीसदी खरीदारी प्रदेश की एमएसएमई से हुई है।

अपर मुख्य सचिव डॉ. नवनीत सहगल ने बताया कि पहले नंबर पर यूपी, दूसरे नंबर पर गुजरात ने 74 सौ करोड़ और तीसरे नंबर पर मध्य प्रदेश ने पांच हजार करोड़ रुपये की ही खरीद की है। जेम पोर्टल पर 14 हजार से अधिक सरकारी विभाग रजिस्टर्ड हैं और तीन लाख 31 हजार से अधिक विक्रेता हैं। इन उद्योगों से करीब तीन लाख से ज्यादा लोगों को प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार मिला है। जेम पोर्टल से सबसे ज्यादा सरकारी खरीद में तीसरी बार प्रदेश नंबर वन हुआ है। इससे पहले केंद्र सरकार ने प्रदेश को 2018 में बेस्ट बायर अवार्ड और 2019 में सुपर बायर अवार्ड से सम्मानित किया था।

साल दर साल किया रिकाॅर्ड कायम
प्रदेश के विभिन्न विभागों ने जेम पोर्टल से सरकारी खरीद में साल दर साल रिकार्ड कायम किया है। वित्तीय वर्ष 2017-18 में 602 करोड़, वित्तीय वर्ष 2018-19 में 1692 करोड़ और वित्तीय वर्ष 2019-20 में 2443 करोड़ रुपए की खरीदारी की, जो लगातार बढ़ते हुए वित्तीय वर्ष 2020-21 में कुल 4611 करोड़ की खरीदारी की गई है। 

Related Articles

Back to top button