तेजस्वी सूर्या करौली हिंसा के पीड़ितों से मिलकर बोले- लालू का जंगल राज सुना था, लेकिन गहलोत का जंगलराज वास्तविक रूप में देख रहे हैं

जयपुर
भारतीय जनता युवा मोर्चा (भाजयुमो) के राष्ट्रीय अध्यक्ष तेजस्वी सूर्या ने कहा है कि बिहार में लालू प्रसाद यादव का जंगलराज सुना था लेकिन आज राजस्थान में अशोक गहलोत का जंगलराज वास्तविक रूप में देख रहे हैं। सूर्या ने जयपुर में सवाई मानसिंह अस्पताल में भर्ती करौली हिंसा के घायलों एवं एक हमले में घायल एईएन हर्षादिपति से मिलने के बाद मीडिया से यह बात कही। सूर्या ने कहा कि लालू के जंगलराज के बारे सुना था पर आज अशोक गहलोत का जंगलराज वास्तविक रूप में देख रहे हैं। उन्होंने कहा, 'करौली में जो हिंसा हुई थी उनके पीड़ितों की हालत इतनी बुरी है कि 20-30 साल के नौजवानों का अभी उनके सामने पूरा जीवन हैं, वे अभी बेड पर है। यह तुष्टिकरण की राजनीति का प्रतिफल है।' उन्होंने बताया कि हर्षादिपति से बात करने पर पता चला कि उन्हें अत्यंत अमानवीय तरीके से कांग्रेस विधायक गिर्राज सिंह मलिंगा ने पीटा और अभी तक उनकी सर्जरी नहीं हो पाई है।

राजस्थान में लोगों के साथ हो रहा जानवरों जैसा व्यवहार: सूर्या
तेजस्वी ने कहा, 'यहां लोगों के साथ जानवरों के जैसा व्यवहार किया जा रहा है। राजस्थान में गहलोत के जंगलराज का भाजयुमो एवं भारतीय जनता पार्टी निरंतर विरोध करेगी और आने वाले समय में और उग्र रूप में इसका विरोध किया जाएगा।'

कांग्रेस के आरोपों पर यह बोले सूर्या
भाजपा नेताओं पर दंगा भड़काने के कांग्रेस के आरोपों से जुड़े सवाल पर सूर्या ने कहा कि आप अनुमति लेकर हर्षादिपति से बात करके आइए, करौली में घायल हुए जिनके सिर में चोट हैं, उनसे मिलकर आइए और इन दोनों की हालत देश को दिखाइए, तब जाकर पूरे देश को पता चलेगा कि राजस्थान में कैसा जंगलराज है। इससे पहले सूर्या ने भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ सतीश पूनियां के साथ अस्पताल में हर्षादिपति एवं करौली हिंसा में घायलों से मिलकर उनका हालचाल जाना। इस अवसर पर भाजयुमो के प्रदेश अध्यक्ष हिमांशु शर्मा भी मौजूद थे।

Related Articles

Back to top button