72 घंटे में यूपी सरकार ने उतार दिए 11 हजार लाउडस्पीकर, जानें क्या बोले अखिलेश यादव

मैनपुरी
उत्तर प्रदेश में धर्मस्थलों से 72 घंटे के भीतर 11 हजार से अधिक लाउडस्पीकर उतारे जा चुके हैं तो इससे कहीं अधिक की आवाज को धीमा कर दिया गया है। यूपी सरकार की इस कदम की लाउडस्पीकर विवाद को जन्म देने वाले महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के प्रमुख राज ठाकरे ने भी तारीफ की है। इस बीच समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और नेता प्रतिपक्ष अखिलश यादव ने तंज कसते हुए कहा है कि सरकार ने धर्मस्थलों से उतारे गए लाउडस्पीकर की संख्या तो बता दी, लेकिन यह कब बताएगी कि कितने बेरोजगारों को रोजगार दिया।

अखिलेश यादव ने अपने विधानसभा क्षेत्र करहल के ग्राम नगला मोती में एक कार्यक्रम के बाद पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि सरकार ये तो बता रही है कि इतने धर्मस्थलों से लाउड स्पीकर हटा दिए गए। लेकिन सरकार ये कब बताएगी कि कितने बेरोजगारों को रोजगार दिया गया है। किसानों के गेहूं की खरीद नहीं हो रही। महंगाई से जनता परेशान है।  सपा अध्यक्ष ने कहा कि महंगाई और जन समस्याओं से ध्यान हटाने के लिए बाबा की सरकार लोगों को गुमराह कर रही है। पुलिस लाउड स्पीकर हटाने में लगी है। प्रदेश में अपराध बढ़ रहे हैं। आज ही शामली में सभासद को गोली मार दी गई। पुलिस लाउड स्पीकर हटाएगी तो कानून व्यवस्था पर काम कब करेगी। ये सब ध्यान हटाने के लिए किया जा रहा है। प्रदेश में किसी को भी रोजगार नहीं मिला। कारोबार खत्म हो रहा है। रोजगार के अवसर भी खत्म किए जा रहे हैं।

हटाए गए 11 हजार ''अवैध'' लाउडस्पीकर हटाए गए
उत्तर प्रदेश सरकार के निर्देश पर धार्मिक स्थलों से अब तक 'अवैध' रूप से लगाए गए 11,000 लाउडस्पीकर हटाए गए हैं और 35,000 लाउडस्पीकरों की आवाज कम की गई है। प्रदेश के अपर पुलिस महानिदेशक (कानून-व्यवस्था) प्रशांत कुमार ने कहा, ''पूरे प्रदेश में धार्मिक स्थलों पर अवैध रूप से लगाए गए लाउडस्पीकर उतारने और वैध लाउडस्पीकर की आवाज कम करने के सिलसिले में एक अभियान चलाया जा रहा है। इसके तहत बुधवार दोपहर तक 10923 लाउडस्पीकर हटाए गए हैं और 35221 की आवाज कम की गई है।'' उन्होंने कहा कि लाउडस्पीकरों के संबंध में कोर्ट के आदेशों को भी ध्यान में रखा जा रहा हैं।

Related Articles

Back to top button