Nude Dance: महाराष्‍ट्र में अचानक लड़के ने लड़की के शरीर से उतार दिए कपड़े, किया न्‍यूड डांस

Nude Dance In Maharastra: भंडारा जिले में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान एक महिला और कुछ अन्य लोगों के अश्लील डांस का वीडियो वायरल हो गया। भंडारा जिले के तुमसर तालुका के नाकाडोंगरी में एक डांस का आयोजन किया गया था।

Nude Dance In Maharastra: उज्जवल प्रदेश, भंडारा. भंडारा जिले में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान एक महिला और कुछ अन्य लोगों के अश्लील डांस का वीडियो वायरल हो गया। भंडारा जिले के तुमसर तालुका के नाकाडोंगरी में एक डांस का आयोजन किया गया था। डांस करते समय अचानक लड़की के शरीर से कपड़े उतार दिए गए और अश्लील डांस किया गया। इस मामले में गोबरवाही पुलिस ने नागपुर आरके हंगामा ग्रुप के पांच लोगों और कार्यक्रम आयोजित करने वाले और अश्लील वीडियो फैलाने वाले पांच लोगों के खिलाफ आईपीसी की धारा 354, 354 बी, 294, 509 के तहत मामला दर्ज किया है।

दो पुलिसकर्मी भी हुए निलंबित

इसके अलावा मामले में लापरवाही बरतने के आरोप में दो पुलिसकर्मियों को बुधवार को निलंबित कर दिया गया। अधिकारियों ने बृहस्तिवार को यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि ड्यूटी से अनुपस्थित रहने के आरोप में एक हेड कांस्टेबल और एक कांस्टेबल को निलंबित कर दिया गया है। अधिकारियों ने बताया कि गोबरवाही पुलिस थाना क्षेत्र के तहत नाकाडोंगरी गांव में 17 नवंबर की रात को हुई घटना के सिलसिले में सहायक पुलिस निरीक्षक नितिन मदानकर को भी यहां पुलिस मुख्यालय से संबद्ध किया गया है। इस घटना का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है।

Also Read: Jabalpur Breaking News : कलेक्ट्रेट से गायब हुई Repubic Day Scam फाइल, 3 कर्मचारी निलंबित

अधिकारियों ने कहा कि गांव में ‘मंडई मेला’ के दौरान एक कार्यक्रम आयोजित किया गया था, जहां नागपुर के एक नृत्य समूह की एक महिला नर्तकी ने हिस्सा लिया और नृत्य के दौरान कथित तौर पर कपड़े उतार दिए। उन्होंने कहा कि कुछ युवा भी नृत्य में शामिल हो गए, उन्होंने महिला नर्तकी को छूने की कोशिश की और उस पर नोट फेंके।

मामला हुआ दर्ज

अधिकारियों ने बताया कि वायरल वीडियो का संज्ञान लेते हुए और एक कांस्टेबल की शिकायत के बाद गोबरवाही पुलिस ने मंगलवार को कार्यक्रम आयोजक, नृत्य समूह के निदेशक और अन्य के खिलाफ नियमों के उल्लंघन के लिए मामला दर्ज किया। एक अधिकारी ने बताया कि पुलिस अधीक्षक लोहित मतानी ने मामले को गंभीरता से लिया और बुधवार को हेड कांस्टेबल राकेश सिंह सोलंकी और कांस्टेबल राहुल परतेकी को निलंबित कर दिया, जो कार्यक्रम के दौरान कथित तौर पर ड्यूटी से अनुपस्थित थे।

DA Hike : बिहार कर्मचारियों का बढ़ाया 4 प्रतिशत महंगाई भत्ता

Back to top button