बेटे का शव कब्र से निकाल पोस्टमार्टम कराने की मांग

अलीगढ़
बन्नादेवी थाना क्षेत्र के सराय रहमान के एक युवक की तीन सितंबर को विषाक्त खाने से हुई मौत के प्रकरण में नया मोड़ आ गया है। मृतक के परिवार वालों ने पहले तो उसे बिना पोस्टमार्टम कराए ही दफन कर दिया था। अब मां ने बेटे का शव कब्र से निकाल पोस्टमार्टम कराकर मौत का सही कारण जानने की पुलिस से गुहार लगाई है। थाना पुलिस ने कब्र से शव निकालने की कार्रवाई के लिए डीएम से अनुमति मांगी है।

मृतक बाबू पुत्र नत्थू निवासी सराय रहमान, बन्नादेवी की मां इमराना ने बताया कि बाबू रेलवे स्टेशन के गेट के बाद फल की ढकेल लगाता था। आरोप है कि नौ अगस्त को एक महिला ढकेल पर फल लेने पहुंची। कुछ फल धौंस देकर ज्यादा मांगने लगी। बेटे द्वारा मना करने पर महिला ने मारपीट और अभद्रता शुरू कर दी। इतना ही नहीं, ढकेल को पलट दिया। बाबू ने इसकी वीडियो बनाने और पुलिस को सूचना देने की कोशिश की तो फोन जमीन पर पटक दिया।

आरोप है कि महिला को जैसे-तैसे रोका गया और राहगीरों ने पुलिस को सूचना देकर बुलाया। पुलिस ने महिला व बाबू के बीच समझौता कराया कि महिला उसके मोबाइल का पैसा अदा करेगी। मगर, महिला मुकर गई। बाबू कई दिनों तक पुलिस के चक्कर काटता रहा। इसके बाद भी कोई सुनवाई न होने पर उसने विषाक्त खा लिया था। जेएन मेडिकल कालेज में शनिवार तड़के मौत हो गई थी।

सीओ द्वितीय शिवनारायण सिंह ने बताया कि मामले में आरोपी महिला के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने का मुकदमा दर्ज किया जा चुका है। मृतक की मां व परिवार वालों ने पहले तो बिना पोस्टमार्टम कराए ही शव को दफन करवा दिया था। अब मां द्वारा शव को कब्र से निकाल पोस्टमार्टम कराकर मौत का सही कारण जानने के लिए पत्र दिया गया है। इस संबंध में डीएम को पत्राचार कर अनुमति मांगी गई है।

Related Articles

Back to top button