वाराणसी जाते वक्त तकनीकी खराबी से 5:45 घंटे लेट, दूसरी ट्रेन से भेजे गए यात्री

बुलंदशहर
दिल्ली से वाराणसी के लिए रवाना हुई वंदे भारत ट्रेन में तकनीकी खराबी आ गई। इस वजह से ट्रेन करीब छह घंटे की देरी से चल रही है। ट्रेन के एक कोच के पहियों में तकनीकी खराबी आने के बाद यात्रियों को दूसरी ट्रेन मंगवाकर, उससे आगे के सफर के लिए रवाना किया गया है। अचानक आई खराबी के चलते यात्री में काफी देर तक अफरातफरी का माहौल रहा। इस ट्रेन में कुल 1200 यात्री सवार थे।

ट्रैक्शन मोटर के बेयरिंग में आई खराबी
भारतीय रेलवे के मुताबिक वाराणसी को जाने वाली वंदे भारत ट्रेन संख्या 22436 सुबह छह बजे नई दिल्ली रेलवे स्टेशन से रवाना हुई थी। दनकौर और वैर रेलवे स्टेशन के बीच ट्रेन के कोच संख्या सी-8 के साथ लगे ट्रैक्शन मोटर (Traction Motor) की बेयरिंग में कुछ खराबी आ गई। इससे ट्रेन के पहिए जाम हो गए।

यात्रियों को किसी तरह खुर्जा स्टेशन पहुंचाया गया
सूचना मिलते ही पुरानी दिल्ली रेलवे स्टेशन से एडीआरएम और उनकी टीम को मौके पर रवाना किया गया। उनकी टीम ने ट्रेन की जांच की। रेलवे की एनसीआर टीम की मदद से बेयरिंग को जाम मुक्त किया गया। इसके बाद ट्रेन को मात्र 20 किमी प्रतिघंटा की रफ्तार पर चलाते हुए खुर्जा रेलवे स्टेशन ले जाया गया। इस दौरान दिल्ली से दूसरी ट्रेन मौके के लिए रवाना कर दी गई।

दूसरी ट्रेन से भेजे गए यात्री
रिप्लेसमेंट रेक दिल्ली से 10:45 बजे रवाना हुई थी। यात्रियों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए उन्हें दूसरी ट्रेन से आगे के सफर पर रवाना किया गया है। यात्रियों को दूसरी ट्रेन में शिफ्ट करने के लिए रेलवे ने एक वरिष्ठ अधिकारी (वाणिज्यिक अधिकारी) को भी रिप्लेसमेंट ट्रेन के साथ भेजा है।

वापस दिल्ली लाकर होगी मरम्मत व जांच
यात्रियों को दूसरी ट्रेन में रवाना करने के बाद खराब हुई वंदे भारत ट्रेन को यार्ड में ले जाने की तैयारी चल रही है। यार्ड में लाकर ट्रेन की मरम्मत होगी। साथ ही तकनीकी खराबी किस वजह से आई, इसकी भी विस्तृत जांच होगी।

यात्रियों में अफरातफरी का माहौल
बीच सफर में अचानक से ट्रेन के पहिए जाम होने की वजह से यात्रियों में अफरातफरी का माहौल रहा। काफी देर तक यात्रियों को समझ ही नहीं आ रहा था कि ट्रेन चल क्यों नहीं रही है। हालांकि ट्रेन पर मौजूद स्टाफ ने प्राथमिक जांच के बाद यात्रियों को स्थिति नियंत्रण में होने का भरोसा दिलाया।

पांच घंटे करना पड़ा इंतजार
ट्रेन में तकनीकी खराबी आने के बाद यात्रियों को दोबारा सफर शुरू करने के लिए काफी लंबा इंतजार करना पड़ा। दिल्ली से मौके पर पहुंची रेलवे टीम ने किसी तरह वंदे भारत ट्रेन की तकनीकी खराबी में थोड़ा सुधार कर उसे 20 किमी प्रतिघंटा की प्रतिबंधित रफ्तार पर खुर्जा स्टेशन पहुंचाया। इसके बाद यात्रियों को दूसरी ट्रेन से आगे का सफर शुरू करना पड़ा। इसमें पांच घंटे से ज्यादा का वक्त लग गया।

झटके के साथ ट्रेन रुकी तो यात्री दहशत में आए
दिल्ली-हावड़ा रेलवे लाइन पर शनिवार सुबह करीब आठ बजे उस समय अफरा-तफरी मच गई, जब नई दिल्ली-बनारस के बीच चलने वाली सेमी हाइस्पीड ट्रेन वंदे भारत ट्रेन अचानक गौतमबुद्धनगर जनपद के दनकौर रेलवे स्टेशन के निकट झटके के साथ रुकी। यात्री भयभीत हो गए। स्टेशन अधीक्षक, आरपीएफ व जीआरपी प्रभारी मौके पर पहुंच गए। अधिकारियों ने टेक्निकल टीम को बुलाकर मामले की जांच पड़ताल कराई।

1200 यात्रियों को दूसरी ट्रेन से भेजा गया
जिसके बाद करीब साढ़े बारह बजे लोको पायलट की मदद से ट्रेन को खुर्जा जंक्शन पर लाया गया। उसके बाद ट्रेन सवार करीब 1200 यात्रियों को एम्प्टी कोचिंग रेल (इसीआर) की मदद से रवाना किया गया। स्टेशन अधीक्षक ने घनश्याम मीणा ने बताया कि तकनीकी खराबी के चलते ट्रेन की एक बोगी के पहिए अचानक जाम हो गए थे। जिस कारण ट्रेन को रोका गया था। यात्रियों को दूसरी ट्रेन में सवार कराकर रवाना कर दिया गया है।

Related Articles

Back to top button