Next CM of MP: प्रदेश में सोमवार को ख़त्म होगा CM फेस का सस्पेंस

Who will be CM of MP: मध्य प्रदेश में सोमवार को भाजपा के विधायक दल की बैठक होना है, ऐसे में संभावना है कि अब जल्द ही मुख्यमंत्री के चेहरे को लेकर बना सस्पेंस खत्म हो सकता है।

Who will be CM of MP: उज्जवल प्रदेश, इंदौर. प्रदेश में चुनाव नतीजे को आए 6 दिन हो चुके हैं, लेकिन अभी तक मध्य प्रदेश में मुख्यमंत्री के चेहरे को लेकर बना हुआ सस्पेंस अभी तक खत्म नहीं हुआ है। वहीं सोमवार को प्रदेश में विधायक दल की बैठक होना है, ऐसे में संभावना है कि सोमवार को सीएम कौन होगा इसका फैसला हो जाएगा।

पर्यवेक्षक भी हो चुके हैं नियुक्‍त

बता दे कि प्रदेश में सीएम पद की दौड़ में शिवराज सिंह चौहान, प्रहलाद सिंह पटेल, नरेंद्र सिंह तोमर, ज्योतिरादित्य सिंधिया और कैलाश विजयवर्गीय के नाम रेस में है। वहीं भाजपा ने सीएम फेस को लेकर हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर, ओबीसी मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष डा. के.लक्ष्मण और राष्ट्रीय सचिव आशा लाकड़ा को पर्यवेक्षक बनाया गया है।

सोमवार शाम सात बजे होगी बैठक

विधायक दल की बैठक सोमवार को शाम सात बजे बुलाई गई है। इसमें मुख्यमंत्री के नाम को लेकर प्रस्ताव रखा जाएगा। उधर, भोपाल में नवनिर्वाचित विधायक और पूर्व केंद्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल ने मुख्यमंत्री के प्रश्न पर कहा कि कोई असमंजस नहीं है। पार्टी की अपनी प्रक्रिया है। आपको उसका इंतजार करना होगा।

Also Read – Traffic Rules Change

शिवराज सिंह का नाम सबसे ऊपर

सूत्रों के अनुसार अब भी शिवराज सिंह चौहान मुख्यमंत्री की दावेदारी में सबसे ऊपर हैं। पार्टी का केंद्रीय नेतृत्व लोकसभा चुनाव को लेकर गंभीर है और वह मध्य प्रदेश में कोई जोखिम नहीं लेना चाहेगा, ऐसी स्थिति में शिवराज सिंह पर ही दांव लगाकर पार्टी लोकसभा चुनाव में अच्छे परिणाम हासिल करने पर विचार कर रही है। शिवराज सिंह मुख्यमंत्री बने रहे तो दो उप मुख्यमंत्री प्रहलाद पटेल और तुलसीराम सिलावट को बनाया जा सकता है। तुलसीराम एससी वर्ग से आते हैं।

प्रहलाद पटेल बने मुख्यमंत्री तो कैलाश अध्यक्ष संभावित

एक अन्य फार्मूले में प्रहलाद पटेल को मुख्यमंत्री बनाकर कैलाश विजयवर्गीय को प्रदेश अध्यक्ष बनाए जाने की चर्चा है। ऐसी स्थिति में दो उप मुख्यमंत्री विष्णु दत्त शर्मा और ओमप्रकाश धुर्वे बनाए जा सकते हैं। तब नरेंद्र सिंह तोमर को पुन: लोकसभा चुनाव लड़ाकर केंद्र में ले जाया जा सकता है। एससी वर्ग के जगदीश देवड़ा को विधानसभा अध्यक्ष बनाया जा सकता है। मध्य प्रदेश में भाजपा ने यह बदलाव किया तो शिवराज सिंह ओबीसी वर्ग के अग्रणी नेता बनकर केंद्र में जा सकते हैं।

सीएम शिवराज का ट्वीट चर्चा में

वहीं सीएम फेस को लेकर जारी अटकलों के बीच अब सीएम शिवराज सिंह चौहान का एक ट्वीट भी चर्चा का विषय बना हुआ है, जिसमें सीएम सिर्फ राम-राम लिखा है।

क्‍या बोले खट्टर?

समाचार एजेंसी एएनआइ के अनुसार मध्‍य प्रदेश में पर्यवेक्षक और हरियाणा के मुख्‍यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि सोमवार को विधायक दल की बैठक होगी और मैंं वहां जाऊंआ। वहां जो भी निर्णय होगा, वह पार्लियामेंट बोर्ड की बैठक में मुहर लगेगी।

DA Hike: कर्मचारियों को 4% DA की सौगात दे सकती है नई सरकार

Show More

Related Articles

Back to top button