Ayodhya Ram Mandir Live | प्राण प्रतिष्ठा में 10 दिन शेष: 22 जनवरी को अयोध्या में महकेगी कन्नौज की खुशबू

Ayodhya Ram Mandir Live | प्राण प्रतिष्ठा में 10 दिन शेष: 22 जनवरी को अयोध्या की धरती में कन्नौज की खुशबू शामिल होगी. रामलला की प्राण प्रतिष्ठा को भव्य बनाने की तैयारी चल रही है. राम भक्तों की तरफ से तोहफे भेजे जा रहे हैं.

Ayodhya Ram Mandir Live | प्राण प्रतिष्ठा में 10 दिन शेष: अयोध्या में राम मंदिर के उद्घाटन की तैयारी जोर शोर से चल रही है. 22 जनवरी को रामलला भव्य मंदिर में विराजमान हो जाएंगे. रामलला की प्राण प्रतिष्ठा में कन्नौज की खुशबू फैलेगी. कन्नौज इत्र की खुशबू के लिए दुनिया भर में मशहूर है. रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के दौरान कन्नौज का इत्र मंदिर को सुगंधित करेगा. कन्नौज के राम भक्त ने दान स्वरूप इत्र को भेंट किया है. गोपाल तिवारी ने कन्नौज से रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के लिए इत्र अयोध्या भेजा है. उन्होंने कहा कि 500 वर्षों बाद भगवान राम घर में विराजमान होने जा रहे हैं. (Ayodhya Ram Mandir)

रामलला की प्राण प्रतिष्ठा में फैलेगी खुशबू – Ayodhya Ram Mandir Live

प्रभु राम को दान स्वरूप क्षेत्र की सबसे प्रसिद्ध इत्र अयोध्या लेकर पहुंचे हैं. उन्होंने कन्नौज के इत्र को श्रीराम जन्मभूमि क्षेत्र ट्रस्ट को भेंट करने की बात कही. कन्नौज से रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के लिए अयोध्या लाया गया इत्र खास है. इत्र को प्राकृतिक फूलों से तैयार किया गया है. इत्र में केवड़ा, गुलाब, बेला, चंदन का तेल मिलाने से खुशबू दूर दूर तक फैल जाती है.

Also Read: Ayodhya Ram Mandir Live | प्राण प्रतिष्ठा में 13 दिन शेष

कन्नौज में बने खास इत्र का होगा प्रयोग

गोपाल तिवारी ने बताया कि इत्र रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के 22 जनवरी को होनेवाले अनुष्ठान में काम आएगा. इत्र को श्रीराम जन्मभूमि क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने स्वीकार कर लिया है. कन्नौज के इत्र से पुजारी रामलला की प्राण प्रतिष्ठा का अनुष्ठान कराएंगे. राम मंदिर के उद्घाटन से पहले अयोध्या को संजाने संवारने का काम चल रहा है. श्रीराम जन्मभूमि क्षेत्र ट्रस्ट ने करीब सात हजार विशिष्ट मेहमानों को रामलला की प्राण प्रतिष्ठा समारोह में शामिल होने का न्योता दिया है. प्राण प्रतिष्ठा समारोह में पीएम मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी शामिल होंगे.

Ayodhya Ram Mandir Live | प्राण प्रतिष्ठा में 14 दिन शेष: जानिए राम जन्म भूमि अयोध्या का इतिहास

Show More

Related Articles

Back to top button
Join Our Whatsapp Group