विनायक चतुर्थी व्रत से दूर होंगे जीवन के सरे कष्ट, करे ये उपाए

Vinayaka Chaturthi Vrat : विनायक चतुर्थी के दिन आप अपने बिजनेस या करियर में तरक्की के लिए कुछ आसान उपाय कर सकते हैं, इससे विघ्नहर्ता गणेश जी प्रसन्न होंगे और मनोकामनाएं भी पूर्ण करेंगे.

Vinayaka Chaturthi Vrat : विनायक चतुर्थी के दिन प्रात: स्नान के बाद गणेश जी का पूजन विधि विधान से करें. मार्गशीर्ष माह की विनायक चतुर्थी 27 नवंबर दिन रविवार को है. इस दिन भगवान गणेश की पूजा करते हैं और व्रत रखते हैं.

विनायक चतुर्थी के दिन आप अपने बिजनेस या करियर में तरक्की के लिए कुछ आसान उपाय कर सकते हैं, इससे विघ्नहर्ता गणेश जी प्रसन्न होंगे और मनोकामनाएं भी पूर्ण करेंगे. तिरुपति के ज्योतिषाचार्य डॉ. कृष्ण कृमार भार्गव से जानते हैं विनायक चतुर्थी के उपायों के बारे में.

विनायक चतुर्थी 2022 मुहूर्त

  • विनायक चतुर्थी की तिथि: 26 नवंबर को शाम 07:28 बजे से 27 नवंबर को शाम 04:25 बजे तक
  • विनायक चतुर्थी पूजा मुहूर्त: सुबह 11:06 बजे से लेकर दोपहर 01:12 बजे तक

विनायक चतुर्थी के उपाय

मनोकामना पूर्ति के लिए : विनायक चतुर्थी के दिन प्रात: स्नान के बाद गणेश जी का पूजन विधि विधान से करें. उस दौरान गणपति बप्पा को लाल सिंदूर मस्तक पर लगाएं और नीचे दिए गए मंत्र का उच्चारण करें. इससे प्रसन्न होकर गणेश जी आपकी मनोकामनाएं पूरी करेंगे.
सिन्दूरं शोभनं रक्तं सौभाग्यं सुखवर्धनम्।
शुभदं कामदं चैव सिन्दूरं प्रतिगृह्यताम्॥

करियर में उन्नति के लिए : विनायक चतुर्थी पर आप करियर में उन्नति के लिए ​हल्दी से उपाय करें. पूजा के समय गणेश जी को हल्दी की 5 गांठ अर्पित करें. इस दौरान श्री गणाधिपतये नम: मंत्र का जाप करें. यह उपाय आप हर बुधवार को भी कर सकते हैं.

बिजनेस में तरक्की के लिए : विनायक चतुर्थी के दिन आप अपने कार्य स्थल या जहां पर बिजनेस के लिए कार्यालय है, वहां पर खड़ी मुद्रा में गणेश जी की मूर्ति स्थापित करें. उनका पैर जमीन से स्पर्श करे. ऐसा करने से आपको बिजनेस को स्थायित्व मिलेगा और उन्नति होगी.

धन-धान्य में वृद्धि के लिए : चतुर्थी के दिन आप सबसे पहले गणेश जी की पूजा करें. फिर गणेश जी के मंत्र ऊँ हस्ति पिशाचिनी लिखे स्वाहा का जाप कम से कम एक माला या 108 बार करें. गणपति कृपा से आपके धन में वृद्धि होगी.

विघ्न-बाधाओं को दूर करने के लिए : विनायक चतुर्थी के अवसर पर आप अपने घर के पूजा स्थान या किसी गणपति मंदिर में गणेश जी को कम से कम 21 दूर्वा अर्पित करें. इसे गणेश जी के मस्तक पर चढ़ाना चाहिए. इसके बाद गुड़ के 21 छोटे लड्डू बनाकर बप्पा को अर्पित करें. उनकी कृपा से आपके जीवन के संकट दूर होंगे.

सुख-समृद्धि और उन्नति के लिए : चतुर्थी के दिन गणेश जी की पूजा करते समय उनको मोदक का भोग लगाएं. मोदक नहीं हे तो मूंग का लड्डू अर्पित करें. ये गणेश जी को बहुत ही प्रिय है. उनके आशीर्वाद से आपके घर में सुख-समृद्धि के साथ ही उन्नति भी होगी.

Back to top button