केजरीवाल ने दिए घटना की न्यायिक जांच के आदेश, मृतकों के लिए 10-10 लाख रुपये मुआवजे का ऐलान

नई दिल्ली
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने शनिवार को मुंडका में उस इमारत का दौरा किया, जहां शुक्रवार को आग लगने से 27 लोगों की मौत हो गई थी। इस दौरान सीएम केजरीवाल ने अधिकारियों से हालात की जानकारी लेने के बाद इस हादसे की न्यायिक जांच के आदेश दिए हैं। इसके साथ ही दिल्ली सरकार की तरफ से मृतकों के परिजनों को 10-10 लाख रुपये और घायलों को 50-50 हजार रुपये मुआवजा देने का ऐलान किया है।

मुख्यमंत्री केजरीवाल ने मृतकों के प्रति संवेदना प्रकट करते हुए शवों की शिनाख्त कराने के लिए उनका डीएनए जांच कराने की बात कही है। केजरीवाल ने बताया कि इस हादसे के पीछे जो भी दोषी पाया जाएगा उसे बख्शा नहीं जाएगा। रेस्क्यू ऑपरेशन लगातार जारी है। बता दें कि, पश्चिमी इलाके में मुंडका मेट्रो स्टेशन के पास स्थित चार मंजिला व्यावसायिक इमारत में शुक्रवार शाम आग लगने से कम से कम 27 लोगों की मौत हो गई और 12 अन्य झुलस गए थे। पुलिस सूत्रों ने बताया कि आग इमारत की पहली मंजिल से लगनी शुरू हुई जहां सीसीटीवी कैमरा और राउटर बनाने की कंपनी का ऑफिस था। उन्होंने कहा कि आग बुझाने के काम में 30  से अधिक दमकल वाहनों को लगाया गया था।

पुलिस ने बताया कि कंपनी के मालिकों-हरीश गोयल और वरुण गोयल को गिरफ्तार कर लिया गया है और इमारत के मालिक की पहचान मनीष लाकरा के रूप में हुई है। जो इसी इमारत के सबसे ऊपर वाले फ्लोर पर रहता था और उसके खिलाफ भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है। दमकल विभाग के साथ ही एनडीआरएफ की टीम रेस्क्यू ऑपरेशन में जुटी हैं। कुछ लोगों के अभी अंदर फंसे होने की आशंका जताई जा रही है।  

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button