पनबाडी की दुकान का किराया ₹3.25 लाख, 7.59 स्वायर मीटर की है Paan Shop

पान-सिगरेट की दुकान को देख कर लोग समझते हैं कि दुकानदार गरीब होगा। बड़ी मुश्किल से उसकी गृहस्थी चल रही होगी। लेकिन नोएडा के सेक्टर 18 में पान सिगरेट की एक दुकान के लिए सोनू झा ने सवा तीन लाख रुपये महीने का किराया देगा।

Paan Shop: उज्जवल प्रदेश, नोएडा. नौकरी करके हम और आप कितना कमा लेंगे। 20 हजार, 50 हजार या लाख रुपये महीना। बहुत अच्छी नौकरी होगी तो एक लाख रुपये महीने से ज्यादा का भी वेतन मिल सकता है। आप कल्पना कीजिए कि पान-सिगरेट के एक खोखे (Paan Shop) या कियोस्क से कितनी आमदनी होती होगी। उत्तर प्रदेश के औद्योगिक शहर नोएडा में महज 7.59 स्वायर मीटर के एक कियोस्क की बोली 3.25 लाख रुपये महीने की लगी है। पान-सिगरेट-गुटखा बेचने वाले एक दुकानदार ने इसके लिए बोली लगाई है। एक छोटे से खोखे से लाखों रुपये महीने का किराया मिलेगा, इसकी उम्मीद नोएडा अथॉरिटी (Noida Authority) को भी नहीं थी।

क्या है वाकया

नोएडा में एक पॉश सेक्टर है सेक्टर 18। इसी सेक्टर में बने एक 7.59 वर्ग मीटर के एक कियोस्क के लिए नोएडा अथॉरिटी ऑनलाइन बोली मंगाई थी। इसी कियोस्क के लिए अधिकतम बोली 3.25 लाख रुपये की लगी है। मतलब कि अथॉरिटी को इतनी छोटी सी दुकान का किराया सवा लीन लाख रुपये मिलेगा। जबकि इस दुकान का बेस प्राइस महज 27 हजार प्रतिमाह रखा गया था।

सात खोखे को रखी गई थी नीलामी के लिए

अथॉरिटी के अधिकारियों के मुताबिक नोएडा सेक्टर 18 में एक ही साइज के 7 कियोस्क को किराए पर चढ़ाने के लिए बोली मंगाई गई थी। इस बोली प्रक्रिया में सबसे ज्यादा बोली लगाने वाले 20 लोग शामिल हुए। इसकी अधिकतम बोली 3.25 लाख रुपए प्रतिमाह की लगी। यह बोली सोनू कुमार झा ने जीती है। उन्होंने इसके लिए 14 महीने का एडवांस रेंट, मतलब 45 लाख रुपये भी जमा करा दिया है। इसी में सुमित अवाना और सिद्धेश्वर नाथ ने 1.90 लाख रुपये की बोली लगाई जबकि विनोद कुमार प्रसाद 1.03 लाख रुपये हर महीने देने को तैयार हुए थे। इससे प्राधिकरण को एक साल में राजस्व के रूप में करीब सवा करोड़ रुपये की कमाई होगी।

नोएडा सेक्टर 18 का है प्राइम लोकेशन

दरअसल नोएडा का सेक्टर 18 सबसे प्राइम लोकेशन माना जाता है। यहां 18 किओस्क बनाकर प्राधिकरण ने किराए पर देने के लिए आवेदन आमंत्रित किए थे। पहले और दूसरे चरण में 8 कियोस्क किराए पर ले लिए गए थे। वही बाकी बचे 10 कि उसके लिए आवेदन निकाला गया था। इन्हीं में से 7 क्योस्क के लिए बोली लगाई गई है। अब बाकी बचे तीन क्लास के लिए नियम के मुताबिक भविष्य में तय तिथि पर बोली का मौका प्राधिकरण देगा।

Show More

Related Articles

Back to top button
Join Our Whatsapp Group