MP Breaking: विश्वकर्मा फैमिली सुसाइड कांड की जांच करेगी SIT

MP Breaking News: भोपाल में एक ही परिवार के चार लोगों की आत्महत्या के मामले में गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा है कि इस मामले में जांच के लिए एसआईटी जांच करेगी। वहीं जिन एप और टेलीफोन एवं मोबाइल नंबर से उस परिवार को धमकी दी गई, उन पर भी कार्यवाही की जाएगी।

MP Breaking News: उज्जवल प्रदेश, भोपाल. भोपाल में एक ही परिवार के चार लोगों की आत्महत्या के मामले में गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा है कि इस मामले में जांच के लिए एसआईटी जांच करेगी। वहीं जिन एप और टेलीफोन एवं मोबाइल नंबर से उस परिवार को धमकी दी गई, उन पर भी कार्यवाही की जाएगी।

मोबाइल नंबर का पता किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि लोन देने वाले इस तरह के जो एप हैं उन पर बैन लगाने के लिए केंद्र सरकार से आग्रह किया जाएगा। मिश्रा ने बताया कि उस परिवार ने पुलिस से संपर्क नहीं किया था, कुछ वकीलों से जरुर सलाह ली थी।

वहीं उन्होंने मीडिया से चर्चा करते हुए कहा कांग्रेस पर भी हमला बोला। उन्होंने कहा कि जाकिर नायक को शांतिदूत कहने वाले चचा जान दिग्विजय सिंह बताएं, जाकिर नायक जैसे कट्टपंथियों को क्या करना चाहिए। कांग्रेस उहा-पेह में है। कांग्रेस में अफरातफरी की स्थिति है।

ALSO READ

इधर, मध्यप्रदेश में आत्महत्या रोकथाम रणनीति तैयार करने राज्य सरकार ने अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य मोहम्मद सुलेमान सहित बीस अफसरों की टीम गठित की है। यह टीम विभिन्न विभागों के साथ समन्य करेगी और राष्टÑीय आत्महत्या रोकथाम रणनीति का राज्य स्तर पर त्वरित क्रियान्वयन कराएगी। इस समिति में पुलिस महानिदेशक सुधीर सक्सेना, प्रमुख सचिव जेल और प्रमुख सचिव विधि को सदस्य बनाया गया है।

इधर… हाईवे पर शव रखकर चक्काजाम, 1 करोड़ मुआवजा और जांच की मांग

राजधानी के नीलबड़ इलाके में ऑन लाइन जॉब फ्राड के जाल में फंस कर अपने दो बच्चों को जहर देकर मारने के बाद पत्नी के साथ फांसी लगाकर आत्महत्या करने वाले भूपेन्द्र विश्वकर्मा के परिजनों ने आज सुबह रीवा में हाईवे पर चारों के शव रखकर चक्काजाम किया।

परिजनों ने पूरे मामले की सीबीआई जांच और परिजनों को एक करोड़ रुपए की मुआवजा राशि के साथ ही परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी देने की मांग की है। चक्काजाम की सूचना मिलने के बाद पुलिस और प्रशासन के अधिकारी मौके पर पहुंच गए थे। कल पोस्टमार्टम के बाद परिजन चारों के शव लेकर रीवा स्थित अम्बा गांव दाह संस्कार के लिए ले गए थे।

जहां पर आज सुबह करीब साढ़े नौ बजे मृतकों के परिजनों ने गांव के लोगों के साथ मिलकर चुरहटा स्थित बायपास रोड पर शव रखकर चक्काजाच कर दिया। परिजनों ने शासन से मृतक के परिवार को 1 करोड़ रूपए मुआवजा, परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी और पूरे मामले की सीबीआई जांच की मांग की है। एसपी रीवा विवेक सिंह ने बताया कि चक्काजाम की सूचना पर एसडीएम अनुराग तिवारी और सीएसपी शिवाली चतुर्वेदी समेत पुलिस व प्रशासन के अधिकारी मौके पर पहुंच गए हैं।

DA Hike News : केंद्रीय कर्मचारियों के DA में 4 प्रतिशत की वृद्धि जल्द, खाते में बढ़ेगी राशि

Show More

Related Articles

Back to top button